What is vitamin B7 in Hindi -विटामिन B7 के स्रोत , फायदे और नुकसान

 86 total views,  2 views today

What is vitamin B7:- क्या आपको पता है की विटामिन B7 क्या है ? इसके स्रोत , फायदे और इसकी कमी या अधिकता से कौन कौन से रोग हो सकते है तो आइये जानते है विटामिन B7 क्या है ?, Sources of vitamin B7 और ये हमारे शरीर के लिए क्यों जरुरी है ?

यह भी पढ़े :- कहीं आपके शरीर में विटामिन B6 की कमी तो नहीं , कमी के लक्षण जानने के लिए पढ़ेread more )

Content :

  1. विटामिन B7 क्या है ? what is vitamin B7 in Hindi
  2. विटामिन B7 के स्रोत क्या क्या है ? Sources of vitamin B7 in Hindi
  3. विटामिन B7 के फायदे – Benefits of vitamin B7 i Hindi
  4. विटामिन B7 की कमी के लक्षण और नुकसानDeficiency symptoms of vitamin B7 in Hindi
  5. निष्कर्ष – Conclusion

विटामिन B7 क्या है ? what is vitamin B7 in Hindi

जिस तरह हमारे शरीर की अन्य विटामिन की जरुरत होती है उसी प्रकार विटामिन B7 की भी आवस्यकता होती है | शरीर को उर्जा के लिए मेटावौलिक प्रक्रिया की जरुरत होती है क्यूंकि इसी प्रक्रिया के द्वारा शरीर को उर्जा की प्राप्ति होती है | विटामिन ग्रुप की सभी विटामिन की तरह विटामिन B7 भी पानी में घुलनशील है |इस विटामिन को आप न तो संग्रहित कर सकते है और न ही अपने आप बन सकता है | विटामिन B7 को आहार के माध्यम से शरीर को पूर्ति कर सकते है |इसीलिए रोजाना के आहार में विटामिन B7 लेना चाहिए |

विटामिन B7 का रासायनिक नाम बायोटिन है | बायोटिन भी अन्य विटामिन की तरह पानी में घुलनशील है | बायोटिन की कमी से शरीर में कई तरह से रोग उत्पन्न हो सकते है |इसीलिए नियमित मात्रा में रोज आहार के रूप में विटामिन B7 लेनी चाहिए | किन किन आहार से आप विटामिन B7 प्राप्त कर सकते है जिसे नीचे बताया गया है |

विटामिन B7 के स्रोत क्या क्या है ? Sources of vitamin B7 in Hindi

आहार के माध्यम से ही शरीर में विटामिन B7 के आवश्यकता की पूर्ति कर सकते है |नीचे कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ के बारे में बताया जा रहा है जिसमे विटामिन B7 ( बायोटिन ) प्रचुर मात्रा में पाया जाता है |

  1. पालक :- पालक विटामिन B7 का अच्छा स्रोत माना जाता है | क्यूंकि इसमें वसा और कोलेस्ट्रोल बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है | एक कप उबले हुए पालक से करीब 0.0010 मिलीग्राम विटामिन B7 प्राप्त कर सकते है | पालक में आयरन बहुत ही अधिक मात्रा में पाया जाता है | पालक के द्वारा आप कैंसर और डायबिटीज को ठीक किया जा सकता है | क्यूंकि पालक में मौजूद एंटीओक्सिडेंट मौजूद होता है जो हमे इन सारे बीमारियों से बचाव करता है |
  2. बादाम :- बादाम में विटामिन B7 काफी मात्रा में मौजूद होता है |अगर आप भुनी हुई बादाम का एक चौथाई कप खाते हो तो उससे आपको लगभग 0.0015 मिलीग्राम विटामिन B7 प्राप्त होता है |बादाम में विटामिन B7 के अलावा विटामिन E भी पाया जाता है |बादाम में काफी मात्रा में फाइबर पाया जाता है जिसके कारण इसे खाना फायदेमंद रहता है |
  3. दही :- अगर हम दही की बात करे तो ये सभी जगह मौजद होता है | दही में विटामिन B7 के साथ साथ कैल्शियम और विटामिन D होता है जो शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक होता है |बालो का झरना भी विटामिन D की कमी से होता है और कमजोर हो जाता है इसीलिए बालो में दही का इस्तेमाल करने का सलाह दिया जाता है | इन सब समस्या से बचने के लिए अपने आहार में दही का सेवन जरुर करना चाहिए |
  4. दूध :- दूध हमारे शरीर में सारे आवश्यकता को पूरा करता है | दूध की एक कप में लगभग 0.0003 मिलीग्राम विटामिन B7 पाया जाता है | दूध को कैल्शियम का मुख्य स्रोत मानते है |जिसके कारण दांतऔर हड्डियाँ मजबूत होती है | दूध में इसके अलावा प्रोटीन होती है है जिसके द्वारा शरीर को दुवारा स्वस्थ्य होने में मदद मिलती है |
  5. ब्रोकली :- ब्रोकली में विटामिन B7 के अलावा और कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते है |एक कप ब्रोकली से आप लगभग 0.0008 मिलीग्राम विटामिन B7 प्राप्त कर सकते है |ब्रोकली में विटामिन B7 के अलावा विटामिन C भी पाया जाता है जो किसी भी प्रकार के कैंसर से बचा जा सकता है | ब्रोकली एक सब्जी होती है जिसमे विटामिन होती है और हड्डियों को मजबूत करती है |

इसके अलावा और भी बहुत सारे खाद्य पदार्थ है जिसमे विटामिन B7 भरपूर मात्रा में पाई जाती है | ऐसे ही कुछ स्रोत निचे बताया गया है –

यह भी पढ़े :- हमारे शरीर के लिए क्यों जरुरी होता है विटामिन B5 , जानने के लिए पढ़ेRead more )

  • मशरूम
  • शरकंद
  • अंडा
  • मछली
  • मूंगफली
  • केला , आदि

विटामिन B7 के फायदे – Benefits of vitamin B7 i Hindi

विटामिन B7 युक्त खाद्य पदार्थ आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद हो सकते है |यह शरीर के लिए बहुत उपयोगी होती है जिसे नीचे विस्तार से बताया जा रहा है –

  1. रक्त सर्करा को नियंत्रित करना :- रक्त में मौजूद विटामिन B7 ब्लड सुगर के स्तर को नियंत्रित करने में बहुत उपयोगी होता है | जिन लोगो को डायबिटीज की समस्या से परेशानी होती है उसके लिए विटामिन B7 का सेवन बहुत फायदेमंद होता है |जिन लोगो को ऐसी समस्या आती है तो डॉक्टर विटामिन B7 युक्त मेडिसिन लेने की सलाह देते है |शरीर में इन्सुलिन की बढ़ोतरी भी विटामिन B7 के द्वारा संभव होती है जिसके द्वारा ब्लड सुगर को सामान्य बनाया जा सकता है |इन्सुलिन के सही तरीके से कार्य करने से आप pre diabetes से बच सकते है |
  2. बालो , त्वचा को स्वस्थ्य रखने में :- बालो और त्वचा में मौजूद विटामिन B7 के कारण ही इसे स्वस्थ्य रखा जा सकता है |विटामिन B7 की कमी से बालो का टूटना ज्यादा होता है और बाल भी पतला हो जाता है और त्वचा भी रूखापन हो जाती है |और त्वचा में जलन जैसी समस्या भी उत्पन्न हो जाती है |इन्ही सब दुस्प्रभाव के कारण फेस क्रीम और अन्य संदौर्य उत्पादों में विटामिन B7 को शामिल किया जाता है |फेस क्रीम या सौन्दर्य क्रीम के बजाय आप भोजन के माध्यम से विटामिन B7 लेना अच्छा होता है |
  3. ह्रदय को रोग मुक्त रखने में :- विटामिन B7 के द्वारा ह्रदय में होनी बाली विमरियो से मुक्त हुआ जा सकता है | इससे हार्ट अटैक जैसी सम्भावना कम हो जाती है |एक शोध में पता चला है की कोलेस्ट्रोल पर नियंत्रण करने में विटामिन B7 भी असरदार साबित होता है |विटामिन 7 स्वस्थ्य के लिए जरुरी कोलेस्ट्रोल को बढाता है और ख़राब कोलेस्ट्रोल को कम करता है | वैसे लोग जिनको डायबिटीज है और ह्रदय रोग हो वैसे लोगो को नियमित विटामिन B7 लेना चाहिए |
  4. थाइराइड को नियंत्रण करने में :- थाइराइड की गतिबिधि को सामान्य करने के लिए विटामिन B7 दिया जाता है |थाइराइड ग्रंथि के कारण से ही भूख, निंदन, दर्द , मूड उर्जा आदि क्रिया नियंत्रित होती है |थाइराइड सम्बन्धी कई परेशानी विटामिन B7 की कमी के कारण शुरू हो जाती है | जैसे –भूख न लगना, जल्दी थक जाना , बजन कम होना , नींद नहीं आना आदि ये सब समस्या विटामिन B7 की कमी से हो सकती है |

विटामिन B7 की कमी के लक्षण और नुकसानDeficiency symptoms of vitamin B7 in Hindi

शरीर में विटामिन B7 पानी में घुलनशील होती है जिसके करना शरीर में विटामिन B7 की अधिकता होने पर या पेशाब के द्वारा बाहर निकल आता है | हालाँकि हमारा शरीर विटामिन B7 की अधिकता को बर्दास्त कर लेता है और इससे होनी वाली समस्या को भी कम देखा जाता है |विटामिन B7 की कमी या अधिकता के कुछ ऐसे लक्षण है जिसे नीचे बताया गया है –

  • बार बार पेशाब आना
  • दस्त लगना
  • अनिद्रा और बेचैनी जैसी लक्षण दिखाई देना
  • त्वचा का लाल हो जाना
  • लगतार प्यास लगना , आदि

नोट :- इस तरह के लक्षण अगर आप में कभी भी दिखे तो एक बार डॉक्टर से जरुर संपर्क करे और सलाह ले, और उनके द्वारा बताया गया विटामिन B7 की दवाइयों का ही सेवन करे |

निष्कर्ष :- मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी ये पोस्ट Sources of vitamin B7 in Hindi -विटामिन B7 के स्रोत , फायदे और नुकसान पसंद आई होगी | अगर पसंद आई होगी तब आप मेरे पोस्ट को like करे, अपने दोस्त , फॅमिली , ग्रुप आदि में शेयर करे ताकि उन्हें भी इस तरह की जानकारी मिल सके | इस तरह की और जानकारी के लिए आप मेरे वेबसाइट www.24hourhindi.in को विजित करे |

अस्वीकरण :- इस site पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है | यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए | उपचार के लिए योग्य चिकित्सक का सलाह ले |

धन्यबाद !!!

3 thoughts on “What is vitamin B7 in Hindi -विटामिन B7 के स्रोत , फायदे और नुकसान”

Leave a Reply

%d bloggers like this: