UP Exit Poll 2022 in Hindi

UP Election Exit Poll 2022 results live updates सामने आ चुके हैं, आइये जानते है Aaj tak & Chanakya UP Exit Poll 2022 in Hindi पश्चिमी यूपी में किस सरकार का जलवा एवमकमाल दिखेगा

उत्तर-प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातों चरणों का मतदान ख़त्म होने के बाद अब लोगों की नज़रें यूपी एग्जिट पोल 2022 पर लगी हैं। यूपी विधानसभा चुनावी नतीज़ों के आने से पहले ही हर कोई यह जानने को बेताब है कि इस बार कौन जीतेगा!

सूबे में किसकी सरकार बनेगी! और लोगों की इसी सहज उत्सुकता के मद्देनज़र तमाम समाचार चैनलों और सर्वे एजेंसियों द्वारा विभिन्न आंकड़े पेश किये जा रहे हैं, जिनके आधार पर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं।

हालांकि ये UP Election Exit Poll 2022 in Hindi हमेशा सही नहीं होते, बल्कि कभी-कभी तो हकीकत से बिलकुल ही उलट होते हैं, और यह बात हम सब कहीं न कहीं जानते हैं। पर जैसे हममें से बहुतेरे ज्योतिष को न मानते हुये भी रोज राशिफल देखते हैं, बहुत कुछ वैसे ही हम सहज मानव स्वभाववश अपने से जुड़ी भविष्य की हर बात पहले ही जान लेना चाहते हैं।

UP Election Exit Poll 2022 in Hindi

और अगर बात चुनावों की हो तो हाल के दिनों में UP Election Opinion Poll 2022 Hindi और यूपी एग्जिट पोल 2022 इसके लिये एक खास उपकरण बनकर उभरे हैं। ओपिनियन पोल मतदान से पहले होता है, जिसमें मतदाता अपना नज़रिया ज़ाहिर करते हैं। इसमें वोटर बताता है कि वह किसे वोट करेगा।

जबकि यूपी एग्जिट पोल मतदान के बाद किया जाने वाला वोटर सर्वे है जिसमें वोटर बताता है कि उसने किसके पक्ष में मतदान किया। पर सवाल है कि एक आम मतदाता क्यों और किन परिस्थितियों में सच बोलता है।

आजकल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 का मतदान ख़त्म होने के बाद तमाम एजेंसियों द्वारा अपने-अपने आंकड़े पेश किये जा रहे हैं, पर जो एक बात लगभग सभी में कॉमन है कि सभी सर्वे चुनाव में भाजपा की अच्छी बढ़त दिखा रहे हैं।

हालांकि दावे भी सब उत्तर-प्रदेश विधानसभा चुनाव में सपा-भाजपा में सीधी टक्कर साफ देखी जा सकती है। पर सपा यानी समाजवादी पार्टी को करीब-करीब सभी सर्वेक्षणों में दूसरे नंबर पर दिखाया जा रहा है।

किसी भी UP exit Poll 2022 में सपा की सीटें दो सौ के आंकड़े तक भी पहुंचती नहीं दिखतीं। हालांकि सच सामने आने में अभी थोड़ा वक़्त है। और तब तक सब कुछ महज़ एक अनुमान है।

News Channel UP Exit Poll 2022 Results Updates in Hindi

तो इनमें से किसका अनुमान सटीक बैठेगा! किस एजेंसी का सर्वे सच के सबसे ज्यादा करीब है! इन सवालों का ज़वाब अभी वक़्त के गर्भ में है। लेकिन इन यूपी विधानसभा एलेक्शंस में एग्जिट पोल्ल 202 सर्वेक्षणों पर एक नज़र डालने से हमारे सामने तस्वीर काफी कुछ साफ हो जाती है। तो आइये एक निगाह डालते हैं उन यूपी एग्जिट पोल्स 2022 पर जो तमाम प्रतिष्ठित एजेंसियों और समाचार चैनलों द्वारा कराये गये हैं। इन एग्जिट पोल्स में–

जी-न्यूज़ यूपी एग्जिट पोल्स 2022 के मुताबिक

चुनावी भाग्यदारी पार्टीकल तक का यूपी एग्जिट पोल्स9 March 2022 यूपी एग्जिट पोल्स (Live)
भाजपा 223248
सपा 138157
बसपा511
कांग्रेस49
अन्य35
जी-न्यूज़ यूपी एग्जिट पोल्स 2022

जबकि यूपी एग्जिट पोल्स 2022 के अनुसार बहुमत सपा को मिलेगा। देशबंधु का एग्जिट पोल सर्वे उत्तर प्रदेश में विभिन्न दलों के बीच सीटों की स्थिति कुछ इस प्रकार बताता है —

भाजपा  — 134–150

सपा      — 228–244

बसपा    — 10–24

कांग्रेस   — 1–9

अन्य      — 06

इंडिया टुडे–एक्सिस सर्वे —

भाजपा — 288–326

सपा     — 71-101

बसपा   — 3–9

कांग्रेस  — 1–3

अन्य    — 2–3

न्यूज़ 24 — Chanakya UP Exit Poll 2022 का अनुमान

चुनावी भाग्यदारी पार्टी9 March 2022 यूपी एग्जिट पोल्स (Live)
भाजपा 294
सपा 105
बसपा2
कांग्रेस1
अन्य1
चाणक्या यूपी एग्जिट पोल्स 2022

टाइम्स नाउ वीटो के अनुसार —

भाजपा  — 225

सपा      — 151

बसपा    — 14

कांग्रेस    — 09

अन्य       — 04

रिपब्लिक — मैट्रिज़ सर्वे —

भाजपा  — 266–277

सपा      — 119–134

बसपा    — 7–15

कांग्रेस   — 3–8

अन्य     — 00

रिपब्लिक — पी-मार्क़ सर्वे —

भाजपा  — 240

सपा      — 140

बसपा     — 17

कांग्रेस     — 00

अन्य       — 02

इंडिया टीवी ग्राउंड ज़ीरो

भाजपा — 180–220

सपा     — 168–208

बसपा   — 2–12

कांग्रेस  — 2–8

अन्य    — 2–4

जन की बात, इंडिया न्यूज़ —

भाजपा — 222–260

सपा     — 135–165

बसपा   — 4–9

कांग्रेस  — 1–3

अन्य     — 3–4

एबीपी–सी वोटर सर्वे —

भाजपा  — 228–244

सपा      — 13–148

बसपा    — 13–21

कांग्रेस   — 04–08

अन्य     — 02–06

उत्तर-प्रदेश न्यूज़ एक्स पोल का आंकड़ा —

भाजपा — 211–225

सपा     — 146–160

बसपा   — 14–24

कांग्रेस   — 4–6

टीवी-9 भारतवर्ष के अनुसार —

भाजपा  — 403

सपा      — 146–160

बसपा    — 14–24

कांग्रेस   — 4–6

टीवी-9 के एग्जिट पोल के मुताबिक यूपी विधानसभा चुनाव में विभिन्न दलों का संभावित वोट-शेयर —

भाजपा — 40.1 फ़ीसदी

सपा     — 34.93 फ़ीसदी

बसपा   — 7.4 फ़ीसदी

कांग्रेस   — 14 फ़ीसदी

अन्य      — 3.6 फ़ीसदी

इस तरह हम देखते हैं कि केवल देशबंधु जैसे कुछेक सर्वेक्षणों को हटा दें तो बाकी सब उत्तर-प्रदेश में इस बार भी भाजपा और योगी-सरकार की वापसी की संभावना ही जता रहे हैं।

सनद रहे कि पिछली बार 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा 325 सीटें जीतकर प्रबल बहुमत के साथ सत्ता में आई थी। जिसमें कांग्रेस और समाजवादी पार्टी मिलकर भी पचास सीटें नहीं जीत सके थे, और इस गठबंधन ने कुल 47 सीटें जीती थी। वहीं बसपा को पिछले चुनाव में 19 सीटों से संतोष करना पड़ा था। 

पर यह देखते हुये हमें भूलना नहीं चाहिये कि पिछली बार का माहौल अलग था। तब मोदी-लहर का असर बाकायदा बरकरार था, और भाजपा ने चुनाव उसी को आधार बनाकर लड़ा।

क्योंकि भाजपा सूबे में काफी समय से सत्ता से दूर रही थी, सो कोई मुख्यमंत्री का आकर्षक चेहरा भी नहीं था पार्टी के पास उस समय। लोगों को भाजपा से कुछ चमत्कारिक उम्मीदें थीं। पर अब ये सारी बातें काफी-कुछ धूमिल पड़ चुकी हैं।

यूपी के 403 सीटों में 7 चरणों में हुआ मतदान, बहुमत के लिए 202 सीटें जरूरी

आज लोगों में बढ़ती गरीबी, बेरोजगारी, शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र की असुविधाओं, भर्तियों में बढ़ती धांधलियों, पुलिस ज्यादतियों और किसानों की समस्याओं जैसे तमाम मुद्दों को लेकर आक्रोश है। यहां तक कि कुछेक सत्तापक्ष के विधायक भी असंतुष्ट नज़र आने लगे।

भूलना न होगा कि योगी-सरकार बनने के कुछ ही दिनों बाद सत्तापक्ष के सौ से ज्यादा विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ़ धरने पर बैठ गये थे। यह भी कि इस बार ऐन चुनाव के समय भाजपा धरने पर बैठ गये थे एवम भाजपा के दर्जनों मौज़ूदा विधायकों ने पार्टी छोड़ दी। इन सब तथ्यों से बहुत कुछ असलियत ज़ाहिर होती है।

हालांकि ये सोचना भी ठीक नहीं कि सत्ताधारी भाजपा की सीटें अचानक से बहुत कम हो जायेंगी। पर हम देख सकते हैं कि पिछली बार की तरह के प्रदर्शन का अनुमान किसी भी सर्वे-एजेंसी ने नहीं लगाया है।

सबने इस बार के लिये भाजपा की सीटें घटाई ही हैं। दूसरे भाजपा के साथ एक दिक्कत यह भी है कि सभी पार्टियों से उसका गठबंधन संभव नहीं। फिर भी इतना तो कहा जा सकता है कि अगर इस विधानसभा चुनाव में भाजपा सत्ता में वापसी नहीं कर पाती है तो भी एक बड़ी पार्टी बनी रहेगी और एक मजबूत विपक्ष का निर्माण करेगी।

फिलहाल उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के सातों चरणों का मतदान संपन्न हो चुका है। जिसके लिये क्रमशः 10, 14, 20, 23 और 27 फरवरी व मार्च की 3 और 7 तारीख़ को वोटिंग हुई। उत्तर प्रदेश में कुल 403 सीटें हैं और इस तरह बहुमत का  आंकड़ा 202 सीटों का है। यूपी विधानसभा एलेक्शंस में एग्जिट पोल्ल 2022 के अनुसार देखना होगा कि भाजपा और सपा के बीच इस सीधी टक्कर में बाजी किसके हाथ लगती है.

वापिस होम पेज पर जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.